कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया था - Computer Ka Avishkar Kisne Kiya

आजके इस लेख में हम जानेंगे Computer का अविष्कार किसने किया। शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसको कंप्यूटर के बारे में जानकारी ना हो। क्यूंकि यह मनुष्य के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चूका है। ऐसे में हर कोई जानना चाहता है की कंप्यूटर का अविष्कार किसने किया था। यह सवाल जितना आसान लगता है उतना है नहीं क्यूंकि कंप्यूटर का अविष्कार किसी एक इंसान द्वारा नहीं किया गया है। बल्कि इसको बनाने में समय-समय पर कई लोगों का योगदान रहा है। 

इसलिए मैंने इस पोस्ट को अलग-अलग हिसो में बांटा है ताकि आप उन लोगों के बारे में आसानी से जान पाए जिन्होंने कंप्यूटर का अविष्कार करने में अपना योगदान दिया है। तो चलिए बिना समय बर्बाद किए जानते है कंप्यूटर का अविष्कार किसने किया और कब किया। 

Computer Ka Avishkar Kisne Kiya

कंप्यूटर का अविष्कार किसने किया?

कंप्यूटर का अविष्कार सबसे पहले Mathematician Charles Babbage द्वारा किया गया था। उन्होंने 1823 में एक डिवाइस का अविष्कार किया था जिसको Difference Engine नाम दिया गया। इसका इस्तेमाल छोटी-छोटी Mathematical Calculations को हल करने के लिए किया जाता था। डिवाइस इंजन को सबसे पहला यांत्रिक कंप्यूटर माना जाता है। 

उसके बाद उन्होंने काफ़ी मेहनत की और 1833 में एक नई मशीन का अविष्कार किया जिसे Analytical Engine नाम दिया गया। यह पहले वाले इंजन की तुलना में काफ़ी बहेतर और एडवांस तकनीक से बनाया गया था। इसका इस्तेमाल किसी भी तरह की Mathematical Calculation को हल करने के लिए किया जाता था।   

लेकिन अफ़सोस की बात उस समय Charles Babbage की फाइनेंसियल कंडीशन अच्छी नहीं थी इसलिए वह Analytical Engine को डिजिटल कंप्यूटर में नहीं बदल पाए और तब तक उनकी मौत हो गई। 

पहले Programmable Computer किसने और कब बनाया था 

पहला Programmable कंप्यूटर 1938 को Konrad Zuse द्वारा बनाया गया था जिसे z1 नाम से जाना जाता है। 

इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर का अविष्कार किसने किया था 

दुनिया का सबसे पहला इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर John Mauchly और J.Presper Eckert ने 1945 में मिलकर बनाया था। इस कंप्यूटर को Electronic Numerical Integrator And Computer नाम दिया गया था। 

यह कंप्यूटर आकार में बहुत बड़ा था वहीं इसका वजन 40 Tones से भी अधिक था। इसका इस्तेमाल Numerical Calculation के अलावा मौसम की जाँच के लिए भी किया जाता था। 

इस इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर को 10 हजार Capacitors, 18 हजार Vacuum Tubes और 70 हजार Resistors को एक साथ जोड़कर बनाया गया था। 

उसके बाद कंप्यूटर के आकार को छोटा करने के लिए कुछ वैज्ञानिको ने मिलकर Transistor का अविष्कार 1947 में किया। 

Personal Computer का अविष्कार किसने किया था। 

सबसे पहला PC (Personal Computer) Ed Robert द्वारा 1975 में बनाया गया था इसे Altair 8800 नाम दिया गया। इस कंप्यूटर के साइज में बहुत सुधार लाया गया था। आज हम जिस कंप्यूटर का इस्तेमाल कर रहे हैं इसको ही पर्सनल कंप्यूटर कहा जाता है। 

लैपटॉप का अविष्कार किसने किया था

आजके समय में लोग लैपटॉप का ही ज्यादा इस्तेमाल करते है क्यूंकि इसको एक स्थान से दुसरे स्थान पर आसानी से लिया जा सकता है। इसका अविष्कार Adom Osborne ने सन 1981 में किया था। जब इसको बनाया जा रहा था उस समय ही Keyboard, Mouse, स्क्रीन, Speaker और अन्य महत्वपूर्ण भाग इसके साथ जोड़ दिए गए थे। 

भारत में कंप्यूटर कब आया

भारत में सबसे पहला कंप्यूटर 1956 को लाया गया था। इसे कोलकाता के एक साइंस इंस्टिट्यूट में Mathematical Calculation के उदेश्य से स्थापित किया गया। इसका नाम उस समय इसकी कीमत एक लाख से भी अधिक थी जिसके कारण बहुत ही कम देश इसे खरीद पाए। 

भारत में कंप्यूटर का अविष्कार किसने और कब किया 

भारत में कंप्यूटर का अविष्कार सन 1966 में किया गया था। इस कंप्यूटर को ISIJU रखा गया था। यह जानकर मुझे बहुत ख़ुशी हुई थी की अन्य देशों की तरह हमारा भारत भी पहले से ही टेक्नोलॉजी में Advance था। 

FAQ

1. फादर ऑफ़ कंप्यूटर किसे कहते हैं? 

फादर ऑफ़ कंप्यूटर Mathematician Charles Babbage को कहा जाता है। इन्हें यह दर्जा इसलिए दिया गया है क्यूंकि इन्होंने सबसे पहले Computer का अविष्कार किया था। हालांकि कई shodhkarton का मानना है की दुनिया का सबसे पहले कंप्यूटर का अविष्कार 1922 में Tim Cranmer ने किया था। इस कंप्यूटर को Abacus नाम दिया गया था। 

2. कंप्यूटर का अविष्कार कब हुआ था? 

कंप्यूटर का अविष्कार 1823 में किया गया था। Computer चार्ल्स बाबबागे द्वारा विकसित किया गया था। 

कंप्यूटर का अविष्कार क्यों किया गया था? 

यह एक अहम सवाल है की आखिर कंप्यूटर को बनाने की जरूरत क्यों पड़ी? कंप्यूटर का अविष्कार इसलिए किया गया था ताकि बिना किसी गलती के Mathematical Calculations को हल किया जाए। 

कंप्यूटर के कितने पार्ट्स होते है? 

वैसे तो कंप्यूटर के कई पार्ट्स होते हैं परन्तु मैं आपको कुछ मुख्य पार्ट्स के बारे में बताऊंगा जिनका नाम है CPU, RAM, Hard Disk, Motherboard आदि। 

कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं? 

कंप्यूटर की तीन मुख्य प्रकार हैं पहला Desktop Computer जिसे PC के नाम से भी जाना जाता है दूसरा Laptop Computer और तीसरा Tablet Computer। 

Conclusion 

मुझे उम्मीद है आज आप जान गए होंगे कंप्यूटर का अविष्कार करने में किनते लोगों ने अपना योगदान दिया है। तब जाके यह उपयोगी डिवाइस तैयार हुआ है। आजके समय में कंप्यूटर का कितना महत्व है। ये तो आप जानते ही होंगे। जिस कार्य को करने में हमारा पूरा जीवन बीत जाता उसे कंप्यूटर के द्वारा चंद सेकंड में किया जाता है। 

अगर कंप्यूटर ना होता तो शायद आज हम व्हाट्सप्प, फेसबुक, और इंस्टाग्राम जैसे Social Media का यूज़ ना कर पाते क्यूंकि इन सब को भी कंप्यूटर के जरिए विकसित किया गया है। इसके अलावा गवर्नमेंट और प्राइवेट karyalayon में भी सभी काम कंप्यूटर के माध्यम से ही किये जाते हैं। 

लेकिन पुराने ज़माने में विकसित किए गए कम्प्यूटर्स का उपयोग केवल Mathematical Calculation को Solve करने के लिए किया जाता था। सरल भाषा में कहें तो ये Calculator की तरह काम करते थे। लेकिन जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी एडवांस होने लगी वैसे-वैसे कम्प्यूटर्स के फीचर्स को भी बढ़ाया गया। 

 यह भी जरूर पढ़ें:-

Post a Comment

0 Comments